नगर पालिका परिषद, सुलतानपुर

जनपद - सुलतानपुर

नगर पालिका परिषद, सुलतानपुर में आपका स्वागत है।

ऐतिहासिक दृष्टि से जनपद सुलतानपुर का अतीत अत्यंत गौरवशाली और महिमामंडित रहा है। पुरातात्विक, ऐतिहासिक, सांस्कृतिक, भौगोलिक तथा औध्योगिक दृष्टि से सुलतानपुर का अपना विशिष्ट स्थान है। महर्षि बाल्मीकी, दुर्वासा वशिष्ठ आदि ऋषि मुनियो की तपोस्थली का गौरव इसी जिले को प्राप्त है। परिवर्तन के शाश्वत नियम के अनेक झंझवातों के बावजूत इसका अस्तित्व अक्षुण्य् रहा है। अयोध्या और प्रयाग के मध्य गोमती नदी के दाये बाये हाथ की तरह सई और तमसा के बीच कभी यह भूभाग कभी दुर्गम बना था। गोमती के किनारे का यह क्षेत्र कुश काश के लिए प्राचीन काल से ही प्रसिद्ध है, कुश काश से बनने वाले बाध की प्रसिद्ध मंडी यही पर है। प्राचीन काल मे सुलतानपुर का नाम कुशभवनपुर था जो कालांतर मे बदलते बदलते सुलतानपुर हो गया। मोहम्म्द गोरी के आक्रमण के पूर्व यह राजभरो के अधिपत्य मे था, जिनके जनपद मे तीन राज्य इसौली, कुलपुर व दादर थे,आज भी उनके किलो मे भग्न अवशेष विद्यमान है, जो तत्कालीन गौर... आगे पढ़े

श्रीमती बबीता जायसवाल

श्रीमती बबीता जायसवाल

अध्यक्ष नगर पालिका परिषद, सुलतानपुर
Ravindra Kumar

Ravindra Kumar

अधिशासी अधिकारी नगर पालिका परिषद, सुलतानपुर

मौसम

प्रेस विज्ञप्ति पर शहर

हमारा लक्ष्य

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व वाली राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन सरकार ने शहरी भारत को रहन-सहन, परिवहन और अन्य अत्याधुनिक सुविधाओं से लैस करने के इरादे से स्मार्ट सिटीज जैसी योजनाएं बनाई हैं|इस मिशन में शहरों के मार्गदर्शन...

अधिक जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करें

स्वच्छ भारत अभियान भारत सरकार द्वारा चलायी गयी एक स्वच्छता मिशन है। यह अभियान 2 अक्टूबर 2014 को महात्मा गांधी की 145 वें जन्मदिन के अवसर पर भारत सरकार की ओर से आधिकारिक तौर पर शुरू किया गया था|

अधिक जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करें

जो सभी के लिए जीवन की गुणवत्ता, विशेष रूप से गरीब और वंचित सुधार होगा शहरों में सुविधाओं परिवारों को बुनियादी सेवाएं (जैसे जल आपूर्ति, सीवरेज, शहरी परिवहन) प्रदान करने और निर्माण के लिए एक राष्ट्रीय प्राथमिकता है।

अधिक जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करें